Dainik Bhaskar (Hindi)

Articles printed in Dainik Bhaskar (Hindi)

भ्रष्टाचार नहीं, महंगाई बनेगी मुद्दा

हाल में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी महंगाई की ही शिकायत कर रहा था। टीवी पर लोग आलू, प्याज, घी और दाल की कीमतें बताते नजर आते थे। हालांकि चुनावी पंडित हमेशा का चुनाव राग ही गा रहे थे, लेकिन कांग्रेस की हार में भ्रष्टाचार से ज्यादा महंगाई का हाथ रहा। हाल में महंगाई कुछ कम हुई हैं, लेकिन सभी दलों के लिए यह चेतावनी है कि आम आदमी महंगाई के दंश को भूलने वाला नहीं है और यह आगामी आम चुनाव में नजर आएगा।

दैनिक भास्कर मे जून 2008 से जुलाई 2009 तक प्रकाशित लेख

गुरचरण दास के लेख नियमित रूप से अंग्रेजी, हिंदी, मराठी, तेलगू एवं मलयालम भाषाओं के अखबारों मे प्रकाशित होते हैं। हिंदी अखबार दैनिक भास्कर मे जून 2008 से जुलाई 2009 के मध्य प्रकाशित उनके लेख पढने के लिये यह फाईल [PDF Version - 493 KB] डाउनलोड करें।